क्रिसमस इन हिन्दी। Merry Christmas in hindi

Christmas in hindi.
Christmas in hindi.

क्रिसमस पर निबंध in hindi. Christmas essay in hindi. happy merry christmas in hindi.

क्रिसमस पूरे विश्व में सबसे अधिक मनाने वाले और लोकप्रिय त्यौहार में से एक हैं। यह सर्दियों के छुट्टियों के दौरान आती हैं इसलिए बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक क्रिसमस को बड़ी धूमधाम से मनाते हैं।Merry Christmas in hindi।

 आज के समय में क्रिसमस ईसाइयों को त्यौहार नहीं रह गया हैं। बल्कि पूरे समाज में मनाये जाने वाले पर्व हो गया हैं। चाहे हिन्दू हो, मुस्लिम हो, सिख हो, बौद्ध हो, या अन्य कोई भी धर्मों से हो सब क्रिसमस के मौसम का मजा लेते हैं।

मैं आपको बताना चाहूँगा कि क्रिसमस मुख्य रूप से ईसाइयों का त्यौहार हैं यह पूरे विश्व में 25 दिसम्बर को धूम-धाम से मनाया जाता हैं। ईसाई परंपरा में, क्रिसमस का मौसम क्रिसमस के दिन (25 दिसम्बर) से शुरू होने वाला समय हैं।

इस दिन ईसाइयों के भगवान ईसा मसीह का जन्म हुआ था। जिसे ईसाई धर्म शुरू करने के लिए जाना जाता हैं। उन्हें ईसाई धर्म के स्थापना करने के लिए जाना जाता हैं।

आज ही के दिन यानी 25 दिसम्बर को प्रभु ईसा मसीह ने इस धरती पर जन्म लिए थे। इसलिए इस दिन को सबसे पवित्र दिन भी माना जाता हैं। भारत की बात करें तो दुनिया के लोगों की तरह वे भी क्रिसमस में खूब मस्ती करते हैं।

भारत के बारे में सबसे महत्त्वपूर्ण बात यह हैं कि यह देश सभी धर्मों के लोगों वाला देश हैं, इसलिए भारत धर्मनिरपेक्षता के लिए जाना जाता हैं।

प्रभु यीशु की बात करें तो वह एक साधारण व्यक्ति के घर में जन्म लिया था। माता मरियम और पिता जोसफ एक साधारण व्यक्ति थे। लेकिन उनके बावजूद पूरी दुनिया को सत्य, अहिंसा और मानवता के रास्ता दिखा कर चले गये।

प्रभु ईशु के भक्त उनके पुनर्जन्म की शुभकामना संदेश देते हैं उनकी याद में विभिन्न स्थानों पर प्रार्थनाएँ की जाती हैं। प्रभु ईशु साधारण जीवन जीते हुये भी अंधविश्वासों और रूढ़ियों विचार धारा को खत्म करने के संघर्ष किया।

लोगों द्वारा एक दूसरे को बधाई देने के लिए शुरू किया गया शब्द हैं जो आज विश्व में कहे जाने वाले सबसे लोकप्रिय अभिवादन शब्द हैं। “मेरी क्रिसमस” और “हैप्पी क्रिसमस”

अभिवादन और विदाई “मेरी क्रिसमस” और “हैप्पी क्रिसमस” पारंपरिक रूप से अंग्रेजी बोलने वाले देशों में उपयोग किए जाते हैं, जो प्रत्येक वर्ष 25 दिसम्बर से कुछ सप्ताह पहले शुरू होते हैं।

मेरी क्रिसमस ग्रीटिंग के साथ क्रिसमस केक का बड़ा क्रेज होता हैं, अन्य भाषाओं में ये बधाई और उनके समकक्ष न केवल बड़ी ईसाई आबादी वाले देशों में लोकप्रिय हैं, बल्कि चीन और जापान के बड़े पैमाने पर गैर-ईसाई देशों में भी लोकप्रिय हैं, जहाँ मुख्य रूप से ईसाई देशों के सांस्कृतिक प्रभावों के कारण क्रिसमस मनाया जाता हैं।

वहाँ मेरी क्रिसमस और हैप्पी क्रिसमस फेमस हैं। कुछ समय से संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा में “हैप्पी हॉलीडे” क्रिसमस के समय में अन्य विकल्पों की तुलना में अधिक लोकप्रिय हुआ हैं।

इन्हें भी पढ़े:- स्वस्थ रहने के सरल उपाय।

1.क्रिसमस के इतिहास। Christmas history hindi.

christmas history hindi.
Christmas history hindi.

क्रिसमस पश्चिम देशों में मनाये जाने वाला सबसे बड़ा पर्व हैं, जिसे प्रभु यीशु के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता हैं। क्रिसमस को बड़ा दिन के लिए भी जाना जाता हैं।

उस दिन पृथ्वी की भौगोलिक संरचना में प्राकृतिक परिवर्तन होने लगते हैं और दिन बड़े होने लगते हैं यह प्रकृति का  सबसे बड़ा दें हैं।  

दुनिया भर के अधिकतर देशों में 25 दिसम्बर को क्रिसमस मनाया जाता हैं। क्रिसमस का इतना बड़ा प्रभाव हैं कि इस दिन विश्व के लगभग सभी देशों में अवकाश घोषित किया जाता हैं, सभी सरकारी गैर-सरकारी संस्थानों के साथ-साथ छोटे-छोटे कार्यस्थलों पर भी अवकाश होता हैं।

प्रभु यीशु के बारे मान्यता हैं कि येशु मरियम कों उनके पति सेंट जोसेफ मदद से बेतलेहेम में प्राप्त हुए थे लोकप्रिय परम्परा के अनुसार इनका जन्म एक अस्तबल में हुआ था जो चारों तरफ से वध किए गए जानवरों से घिरा हुआ था।

हालाँकि, बाइबल में न तो अस्तबल और न ही जानवरों का उल्लेख हैं। क्रिसमस से 12 दिन पहले क्राइस्टमास्टाइड उत्सव भी शुरू हो जाता है। ईसा का जन्म, 7 से 2 ईसा पूर्व, अन्नो डोमिनि काल प्रणाली पर आधारित है।

ईसा मसीह के जन्म की कोई ज्ञात वास्तविक जन्म तिथि नहीं हैं, 25 दिसम्बर और ऐसा लगता है कि इस तिथि को रोमन त्यौहार या मकर संक्रांति के साथ इसके जुड़ाव के आधार पर चुना गया हैं।

तात्कालिक समय ऐसा हो गया कि गैर ईसाई लोग भी इसे सांस्कृतिक उत्सव के रूप में मनाते हैं। क्रिसमस या बड़ा दिन ईसा मसीह या यीशु के जन्म की खुशी में मनाया जाने वाले सबसे बड़ा महापर्व हैं।

आधुनिक समय में क्रिसमस की छुट्टियों में एक दूसरे को उपहार देना, चर्च में समारोह और विभिन्न सजावट करना शामिल हैं। इस सजावट के प्रदर्शन में क्रिसमस का पेड़, रंग बिरंगी रोशनियाँ, जन्म के झाँकी और हॉली आदि शामिल हैं।

अक्सर सभी क्रिसमस के त्यौहार में एक दूसरे को बधाई देते हैं। अभिवादन “मेरी क्रिसमस और एक नया साल मुबारक” अठारहवीं शताब्दी की शुरुआत से दर्ज किया गया हैं।

इस प्रकार प्रभु ईशु का इतिहास बहुत बड़ा हैं, उनकी अनेक कथाएँ हैं। वे एक महान समाज सुधारक थे। उन्होंने हमेशा समाज को जोड़ने का काम किया।

मैं इस छोटे से लेख में उनकी कहानी पूरी तरह से नहीं बता सकता। न ही मैं इतना ज्ञाता हूँ, बस इतना ही कि मैं प्रभु यीशु के अच्छाइयों को आप तक पहुँचाने का काम कर रहा हूँ।

अगर मैं उसका एक कण भी बता पाया हो तो मैं अपने आप को धन्य मानूंगा। यह मेरे लिए प्रभु ईशु पर पुष्पांजलि से कम नहीं होगा।

कृपया यदि आप प्रभु ईशु के बारे में जो कुछ भी जानते हैं उनको बोतल्दा केयर के पाठकों को बताए और अपने ज्ञान को साझा करे नीचे कमेंट बॉक्स में जाएँ और कमेंट करते हुये अपने शब्दों में बेहतर ढंग से प्रभु ईशु के बारे में अच्छे से बखान करे।

इन्हें भी पढ़े:- स्वस्थ व्यक्ति के लक्षण।

2.क्रिसमस क्यों मनाया जाता हैं। Why is Christmas celebrated?.

Why is Christmas celebrated.
Why is Christmas celebrated.

हम आपको क्रिसमस के इतिहास के बारे में ऊपर कलाम में बता चुके हैं और क्रिसमस क्यों मनाया जाता हैं इनको आगे बता रहे हैं। जीसस क्रिस्ट याने प्रभु ईशु के नाम हैं जीसस क्रिस्ट मतलब यीशु मसीह जो भगवान के पुत्र माना गया हैं।

स्वयं प्रभु के पुत्र के रूप में अवतार लेने वाले ईसा मसीह को उनके जन्मदिन की खुशी में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता हैं। क्रिसमस का अर्थ भी उनके नाम याने क्रिस्ट से निकलता हैं।

ईसाई परंपरा में, क्रिसमस का मौसम क्रिसमस के दिन (25 दिसम्बर) से शुरू होने वाला समय हैं। कुछ चर्चों में मौसम बारहवीं रात तक जारी रहता हैं।

क्रिसमस को कई ईसाई विद्वानों द्वारा क्रिसमस दिवस, नए साल और कभी-कभी कई अन्य छुट्टियों और त्योहारों के रूप में परिभाषित किया गया हैं।

क्रिसमस विंडो डिस्प्ले और क्रिसमस ट्री लाइटिंग सेरेमनी के साथ जब गहनों और लाइट बल्ब से सजाए गए पेड़ों को अच्छे से रोशन किया जाता हैं, तो कई क्षेत्रों में उनके परंपराएँ और मान्यताओं के आधार पर होती हैं।

3.क्रिसमस पर 10 लाइन हिन्दी में। Christmas in hindi ten lines.

Christmas in hindi ten lines.
Christmas in hindi ten lines.

i) क्रिसमस ईसाइयों का सबसे बड़ा महापर्व हैं। जिस पूरे विश्व में बड़े धूमधाम से मानते हैं।

ii) क्रिसमस प्राय: विश्व के सभी देशों में मनाया जाता हैं। 25 दिसम्बर को प्रभु ईशु के जन्म दिन के रूप में याद किया जाता हैं।

iii) प्रभु ईशु ने ही ईसाई धर्म के जनक के रूप में जाता-जाता हैं।

iv) प्रभु ईशु का जन्म माता परियम और पिता जोसेफ से हुआ था। उन्हें भगवान के पुत्र के रूप में जाना जाता हैं।

v) क्रिसमस पर्व की तैयारी एक महीने पहले से शुरू हो जाती हैं और क्रिसमस के 12 दिन बाद समाप्त होती हैं।

vi) इस दिन केक का बहुत महत्त्व होता हैं। लोग एक दूसरे को उपहार के तौर पर केक भी देते हैं।

vii) इस दिन सभी स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय, कार्यालय और अन्य सरकारी और गैर सरकारी संस्थान आदि बंद रहते हैं।

viii) इस दिन लोग क्रिसमस ट्री को सजाते हैं, अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और पड़ोसियों के साथ बड़ी धूमधाम से मनाते हैं और उपहार बांटते हैं।

ix) इस दिन ईसाइयों के प्रभु माने जाने वाले यीशु मसीह की प्रार्थनाएँ की जाती है और चर्च सजाए जाते हैं तथा तरह-तरह के समारोह भी आयोजित किए जाते हैं।

x) कुल मिलाकर, प्रभु ईशु की याद में उनके जन्मदिन को उनके अनुयायियों, भक्तों द्वारा एक यादगार दिन बनाया जाता हैं। अपने बुरे कर्मों को उनके सामने जाकर क्षमा मांगते हैं और सही रास्ते पर चलने का वचन देते हैं।

4.25 दिसम्बर को बड़ा दिन क्यों कहते हैं। 25 December ko bada din kyon kahate hain.

सबसे पहले उस दिन पृथ्वी की भौगोलिक संरचना में प्राकृतिक परिवर्तन होने लगते हैं और दिन बड़े होने लगते हैं। ये सबसे बड़े तथ्य हैं।

कई तरह की मान्यताओं के आधार पर माना जाए तो पहले 25 दिसम्बर को भारत में मकर संक्रांति के रूप में मनाया जाता था। इसलिए इसे बड़ा दिन के रूप में बोलने लगे।

क्रिसमस 25 दिसम्बर को विश्व भर के अधिकतर देशों में मनाया जाता हैं, इसलिए इसे बड़ा दिन भी कहा जाता हैं।

इन्हें भी पढ़े:- स्वस्थ रहने के लिए खानपान।

5.क्रिसमस ट्री का पौधा। Christmas tree hindi.

Christmas tree hindi.
Christmas tree hindi.

क्रिसमस ट्री का पौधा एक डगलस, बालसम या फर का पौधा होता हैं जिसे क्रिसमस के लिए अच्छी तरह से सजाया जाता हैं।

क्रिसमस ट्री एक बहुत ही प्यारा और सुंदर पौधा है जिसे हरे भरे पौधे के रूप में देखा जाता हैं 25 दिसम्बर को क्रिसमस के दिन क्रिसमस विंडो डिस्प्ले और क्रिसमस ट्री लाइटिंग समारोह होता हैं और प्रकाश बल्बों से सजाए गए पेड़ों को रोशन किया जाता हैं।

कई स्थानों पर बच्चों के लिए मजेदार छोटे-छोटे पैकेट और टोकरियाँ लगा कर, उनमें उपहार छिपाए जाते हैं। एक मान्यता के अनुसार क्रिसमस ट्री के पौधे को धन की देवी माना जाता हैं।

यह भी तथ्य हैं कि डगलस, बालसम या फर का पौधा सबसे ज्यादा आक्सीजन देने वाले में सामिल हैं जो मानव के लिए वरदान से कम नहीं हैं।

6.क्रिसमस पर 5 लाइन हिन्दी में। Christmas 5 lines in hindi.

i) ऐसा माना जाता हैं कि रोम के हिप्पोलिटस से (170-236) के बीच में से सबसे पहला स्रोत आया कि 25 दिसम्बर प्रभु यीशु के जन्म की तारीख हैं।

यह लगभग तीसरी शताब्दी से बहुत पहले लिखा गया था। इस धारणा के आधार पर कि यीशु की कल्पना वसंत विषुव में हुई थी।

ii) “मेरी क्रिसमस” , पारंपरिक अंग्रेजी अभिवादन माना जाता हैं, जो मीरा (मजेदार, खुश) और क्रिसमस (पुरानी अंग्रेजी: क्राइस्ट्स मॉस फॉर क्राइस्ट मास) से बना हैं।

iii) “हैप्पी क्रिसमस” ग्रेट ब्रिटेन और आयरलैंड में इस्तेमाल किया जाने वाला एक समान अभिवादन हैं।

iv) अभिवादन और विदाई “हैप्पी क्रिसमस” और “मेरी क्रिसमस” पारंपरिक रूप से अंग्रेजी बोलने वाले देशों में उपयोग किए जाते हैं, जो प्रत्येक वर्ष 25 दिसम्बर से कुछ सप्ताह पहले शुरू होते हैं।

v) अन्य भाषाओं में ये बधाई और उनके समकक्ष न केवल बड़ी ईसाई आबादी वाले देशों में लोकप्रिय हैं, बल्कि चीन और जापान के बड़े पैमाने पर गैर-ईसाई देशों में भी लोकप्रिय हैं। ईसाई देशों के सांस्कृतिक प्रभावों के वजह से क्रिसमस सभी जगह फेमस हो गया हैं।

7.क्रिसमस त्यौहार की जानकारी हिन्दी में। Christmas festival information in hindi.

Christmas festival information in hindi.
Christmas festival information in hindi.

मैंने उपर्युक्त ऊपर कलाम में प्रभु यीशु के बारे में जानकारी दी हैं, यदि आपने नहीं पढ़ा है तो कृपया उपर्युक्त ऊपर कलाम को एक बार जरूर पढ़ लें।

हर साल 25 दिसम्बर को एक त्यौहार की तरह पूरी दुनिया में ईसाई समाज के लोग क्रिसमस को बड़ी धूमधाम से मनाते हैं। ईसा मसीह का जन्म बेथलहम शहर में हुआ था।

उनकी माता का नाम मरियम और पिता का नाम जोसफ था। इस दिन को प्रभु यीशु का जन्मदिन माना जाता है। इस दिन एक दूसरे को मेरी क्रिसमस और हैप्पी क्रिसमस के संदेश दिए जाते हैं।

अपने-अपने घर को लाइट से सजाते हैं। क्रिसमस ट्री में लाइटिंग की जाती है। वे अपने दोस्तों को दावत देते हैं और केक बांटते हैं। प्रार्थनाएँ सभाएँ होती हैं। छुट्टी होने के कारण बच्चे खूब मस्ती करते हैं। आप और अधिक जानकारी के लिए विकिपीडिया में जा सकते हैं।

8.क्रिसमस की शुभकामनाएं हिंदी में डाउनलोड। Christmas wishes in hindi download.

Christmas wishes in hindi download.
Christmas wishes in hindi download.

आप सभी को क्रिसमस की अनेकोनेक शुभकामनाएँ!
आप सभी को क्रिसमस की ढेर सारी शुभकामनाएँ!

9.मेरी क्रिसमस की शुभकामनाएं हिंदी में। Merry christmas wishes in hindi.

Merry christmas wishes in
Merry christmas wishes in hindi.

माँ रारियम के दुलारा कहे आपको दुनिया के रखवाला
आप हैं भगवान पुत्र जीसस क्रिस्ट मतलब यीशु मसीह।

WISH YOU HAPPY CHRISTMAS TO YOU!!!!

MERRY CHRISTMAS TO YOU,
HAPPY CHRISTMAS TO YOU

10.क्रिसमस की शुभकामनाएं। Happy christmas wishes in hindi.

Happy christmas wishes in hindi.
Happy christmas wishes in hindi.

देखो बच्चे सभी देखे आया संता क्लोज
वह लाया बहुत सारे गिफ्ट और मजेदार समान।
झींगल वेल झींगल वेल बाबू जी आया झींगल वेल
झींगल वेल झ्ंगल वेल दीदी आया झींगल वेल।
झींगल वेल जींगल वेल ममी आया झींगल वेल।
देखे भाई देखों आया झींगल वेल।

HAPPY CHRISTMAS TO ALL OF YOU,

HAPPY CHRISTMAS TO ALL OF YOU,
HAPPY CHRISTMAS.

आप सभी को क्रिसमस की ढेर सारी शुभकामनाएं!!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here